नया परवाज़

  यहाँ हर नुक्कड़ पे एक नया ख़ुर्शीद हर रात एक नया ख़्वाब और हर सुबह एक नया परवाज़ ... यहाँ से रोज़ सुबह एक क़ाफ़िला निकलता है तुम्हारे ख़ुल्द से मेरे बोसीदा फ़लक तक और क्या रखु मैं तवक़्क़ो तुमसे ए साक़ी जो मुक़म्मल है ज़िन्दगी इसी ताबीर-ए-ख़्वाब से !   Meaning of Urdu [...]

The Silvery Wink

  Perennial blessings! Aren’t they, for the city buried under the dust of dreary doldrums…? A silver-lining can enlighten the hearts of thousands! The harbinger of the somber spring and chaotic monsoon… or the soothing chuckles of crying babies!! Silver-lining, rhapsodic as it is, appears above the city-lights and disappears, to wink at the dusty [...]